राम के पीताजी कौन थे‌‌ और इनका जन्म किनके घर हुआ था

Ram ke pitaji kaun the

राम के पीताजी कौन थे‌‌? ( Ram ke pitaji kaun the ? ) भगवान श्री राम को विष्णु भगवान का सातवा अवतार माना जाता है। भगवान श्री राम का पूरा वर्णन रामायण में मिलता है। रामायण एक ग्रन्थ है जो वाल्मीकि द्वारा लिखा गया है। 

अगर आपके मन में भी यह सवाल है की भगवान श्री राम के पिता का नाम क्या है तो आईये जानते है इसके बारे में विस्तार से – 

राम के पीताजी कौन थे‌‌?

भगवान श्री राम के पिताजी का नाम दशरथ है। राम का जन्म राजा दशरथ और माता देवी कौशल्या के घर हुआ था। यह वर्णन हमे पुरानों में मिलता है। पुराणों के अनुसार ऐसा माना जाता है की राजा दशरथ पूर्व जन्म में स्वायम्भू मनु थे और माता कौशल्या पहले जन्म में इनकी पत्नी शतरूपा थी। 

पिछले जन्म में स्वायम्भू मनु ने भगवान विष्णु की घोर तपस्या की थी और भगवान विष्णु को अपने पुत्र के रूप में पाने के लिए तपस्या की थी। भगवान विष्णु इनकी तपस्या से काफी प्रश्न हुए थे और इनको वर मांगने हेतु कहा था। 

इनसे प्रसन्न होकर भगवान विष्णु ने स्वायम्भू मनु को आशीर्वाद दिया था की त्रेतायुग में मेरा सातवा अवतार के रूप में जन्म होगा और आप महाराजा और महारानी बनेंगे। इसी के बाद भगवान श्री राम के रूप में विष्णु जी का अवतार हुआ था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *