राजस्थान का लिंगानुपात क्या है ?

Rajasthan ka linganupat ( राजस्थान का लिंगानुपात ) धरती का सबसे खूबसूरत और अनन्य सृजन कुछ है तो वो इंसान है। प्रकृति में जीवित रहने की सारी खूबियों के साथ एक विकशित दिमाग की प्राप्ति किसी अजूबे से कम नहीं। 

इसीलिये इंसान को प्रकृति के शुुक्रगुजार होने के साथ साथ इसकी रक्षा को अपने परम कर्तव्य के रूप ग्रहण करने की आवस्यक है। एक बहतर समाज के गठन हेतु पुरुष और महिला दोनों के ही अहम भूमिका है। इसलिए हमें दोनों को ही सामान अधिकार के साथ साथ मौके भी देना चाहिए।

पुरुष और महिला के लिंगानुपात से हमे आने वाली पीढ़ी के सुरक्षा तथा मानव समाज के कल्याण का आकलन कर सकते है। पुरुष और महिलाओं के आवादी जितनी बराबर हो उतना ही समाज तथा देश के लिये अच्छा है.

जिससे यह प्रतीत होता ही के दोनों को ही सामान सामाजिक अधिकार प्राप्त हो रहे है। सिर्फ सामाजिक तौर पर ही नहीं बल्कि शिक्षा, कर्म तथा अनन्य क्षेत्र में भी सामान लिंगानुपात का होना आवश्यक है।

स्वागत है आप सबको हमारे नए पोस्ट “राजस्थान का लिंगानुपात ” में, आज हम बात करने वाले है राजस्थान के लिंगानुपात के बारे में तथा नजर डालेंगे कुछ देश विदेश के बाकी हिस्सों के ऊपर भी।

लिंगानुपात क्या है?

लिंगानुपात पुरुष और महिलायों के किसी क्षेत्र में जनसँख्या की विवरणी होता है, जिससे हमें पता चलता है कि आनुमानिक 1000 पुरुष जनसँख्या पर कितने महिला है।

मुख्यतः हम लिंगानुपात बच्चो और वयस्क के गिनती में लेते है। लिंगानुपात को हम किसी एक संख्या से प्रकाश करते है, उदहारण स्वरुप 988, इससे हमें यह मालूम होता है कि इस क्षेत्र के प्रति 1000 पुरुषों के मुकावले महिलायों के संख्या 988 है।

भारत का लिंगानुपात –

भारत की लिंगानुपात की बात करे तो साल 2001 में प्रति 1000 महिलायों के मुकावले 1072 पुरुष थे, पर पिछले साल के आकलन के हिसाब यह बढ़कर 1020 हो गया है, यनिके प्रति 1000 पुरुषो के मुकावले 1020 महिलाये उपस्थित है।

राजस्थान का लिंगानुपात –

राजस्थान राज्य की बात की जाये तो यहां की जनसँख्या कुल 6.86 करोड़ (2011 की गणना के हिसाब से) है। जिनमे से पुरुषो की आवादी 3.55 करोड़ और महिलायों के आवादी 3.29 करोड़ था। 2001 के हिसाब से यह 21.31 % से बढा है।

लिंगानुपात की बात की जाये तो यह 928 है, यनिके के प्रति 1000 पुरुषो के मुकावले 928 महिलायें है। बच्चो के लिंगानुपात की बात करे तो यह 2001 के मुकावले 909 से घटकर 888 रहगया है।

जिलों के हिसाब से लिंगानुपात –

जिलाजनसँख्यालिंगानुपात
डूंगरपुर1,388,552994
राजसमंद1,156,597990
पाली2,037,573987
प्रतापगढ़867,848983
बांसवाड़ा1,797,485980
भीलवाड़ा2,408,523973
चित्तौड़गढ़1,544,338972
उदयपुर3,068,420958
नागौर3,307,743956
अजमेर2,583,052952
जालौर1,828,730952
टोंक1,421,326952
झुंझुन2,137,045950
सीकर2,677,333947
झालवाड़1,411,129946
चुरू2,039,547940
सिरोही1,036,346940
बारां1,222,755929
बूंदी1,110,906925
जोधपुर3,678,165916
कोटा1,951,014911
जयपुर6,626,178910
हनुमानगढ़1,774,692906
बीकानेर2,363,937905
दौसा1,634,409905
बारमेर2,603,751902
सवाई-माधोपुर1,335,551897
अलवर3,674,179895
गंगानगर1,969,168887
भरतपुर2,548,642880
कुरौली1,458,248861
धौलपुर1,206,516846
जैसलमेर669,919752

यह भी पढ़े

राजस्थान के बारे में सामान्य जीवन

Related Posts

Rajasthan me high court kitne h

राजस्थान में कितने उच्च न्यायलय है ?

राजस्थान में हाई कोर्ट कितने है ( Rajasthan me high court kitne h ) भारत जैसे विशाल गणराज्य के न्यायिक व्यवस्था जितनी आसान लगती है उतनी है…

Rajasthan diwas kab manaya jata hai

राजस्थान दिवस कब मनाया जाता है ?

Rajasthan diwas kab manaya jata hai ( राजस्थान दिवस कब मनाया जाता है ) अखंड भारत के विभाजन से जन्म लिया एक महान देश जिसे आज हम…

Rajasthan ka lok nritya

राजस्थान का लोक नृत्य और राजस्थान के अन्य नृत्य

Rajasthan ka lok nritya kya hai ( राजस्थान का लोक नृत्य क्या है ) नृत्य सिर्फ एक कला नहीं, यह मनोरंजन तथा सामाजिक मिलाव का जरिया भी…

Rajasthan ke Lok Vadya

राजस्थान के लोकवाद्य क्या है ? | सभी लोकवाद्यों की सूची

Rajasthan ke Lok Vadya kya hai ( राजस्थान के लोकवाद्य क्या है ) भारत के पश्चिम छोर पर बसा यह राज्य कला और संस्कृति में शुरू से…

Rajasthan ka rajya khel

राजस्थान का राज्य खेल क्या है ? यह कैसे खेला जाता है ?

Rajasthan ka rajya khel kya hai ( राजस्थान का राज्य खेल क्या है) खेल कूद शरीर के लिए सबसे अच्छी कसरत मानी जाती है। शारीरिक व्यायाम से…

Rajasthan ka rajya pakshi

राजस्थान का राज्य पक्षी कौनसा है ? यह कहा पाया जाता है ?

Rajasthan ka rajya pakshi kaun sa hai ( राजस्थान का राज्य पक्षी कौनसा है) उन्मुक्त गगन में पंख फैलाये पक्षियों को बचपन में देख कर हम सबको…

Leave a Reply

Your email address will not be published.