हाथ पैर फूल जाना मुहावरे का अर्थ

Hath pav ful jana muhavare ka arth

हाथ पैर फूल जाना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग ( Hath pav ful jana muhavare ka arth or vakya prayog )

शाब्दिक अर्थ : कमर कसना मुहावरे का अर्थ होता है भय या शौक से घबरा जाना।

Shabdik Arth : hath pav ful jana muhavare ka arth : भय या शौक से घबरा जाना

मुहावरे का वाक्य में प्रयोग : कपिल ने जब देखा की वो परीक्षा में फ़ैल हो गया है तो उसके हाथ पाव फूल गये।

मुहावरे से जुड़े कुछ वाक्य

  • रविश कुमार को जब पता चला की उसने फ़ोन कर के गलती की है तो उसके हाथ पाँव फूल गये। 
  • रवीना को अचानक घर पर देख गोविंदा के हाथ पाँव फूल गये।

इस तरह से हम हिंदी के इस मुहावरे हाथ पाँव फूल जाना के अर्थ को समझने का प्रयास किया है।

जैसा की इसके नाम से ही पता चलता है की हाथ पाँव फूल जाना, केवल इस शब्द को देखने तो इसका मतलब कदापि यह नही है किसी के हाथ पाँव सूज गये है या मोटे हो गये है । इसका मतलब है झोर से घबरा जाना। 

हिंदी में कई ऐसे मुहवारे है जो हम बातचीत के दोहरान बोलते है परन्तु हमे उनका मतबल पता नही होता है। हाथ पाँव फूलना भी उन्ही में से एक मुहावरा है जिसके बारे में हमने इस आर्टिकल में बताया है।

यह भी पढ़े

टकटकी लगाना मुहावरे का अर्थ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *